SEBI new update 2024: अब आसानी से ब्लॉक होगें ट्रेडिंग अकाउंट, SEBI कर रहा है तैयारी जाने क्या है पुरा मामला

SEBI new update: सेर्विसेस इंडिया बोर्ड (SEBI) ने शुक्रवार को एक बड़ा कदम उठाते हुए एक नए ट्रेडिंग अकाउंट फ्रेमवर्क की तैयारी की है, जिसका उद्देश्य संदिग्ध गतिविधियों पर निगरानी बनाए रखना है। इसके तहत, 1 अप्रैल तक ट्रेडिंग अकाउंट से संबंधित एक फ्रेमवर्क तैयार किया जाएगा, जिससे ट्रेडिंग मेंबर्स संदिग्ध गतिविधि करने वाले ग्राहकों के लिए ट्रेडिंग अकाउंट की ऑनलाइन एक्सेस को स्वेच्छा से ब्लॉक करने की सुविधा मिलेगी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इस फ्रेमवर्क को शुरू करने के लिए स्टॉक एक्सचेंजों और सेबी के सहयोग से ब्रोकर्स इंडस्ट्री स्टैंडर्ड्स फोरम (ISF) द्वारा तैयार किया जाएगा। इस फ्रेमवर्क के तहत, ग्राहकों के ऑनलाइन ट्रेडिंग खातों को स्वेच्छा से फ्रीज या ब्लॉक करने के लिए विस्तृत पॉलिसी पर दिशानिर्देश शामिल होंगे।

यह कदम उच्च धारा की ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्मों पर संदिग्ध गतिविधियों को नियंत्रित करने के लिए है, जो बाजार में निष्कर्ष और सुरक्षितता को बढ़ावा देगा। इससे ट्रेडिंग समुदाय को एक और सुरक्षित और विश्वसनीय तंत्र मिलेगा जिससे विनियमित और सही गतिविधियों को प्रोत्साहित किया जा सकता है। संदिग्ध गतिविधियों की रोकथाम के लिए यह नया फ्रेमवर्क सुरक्षित और प्रभावी साधारित को बनाए रखने का एक कदम है, जो विनियमित बाजारों की स्थायिता और विश्वसनीयता में मदद कर सकता है।

SEBI का नया ट्रेडिंग अकाउंट फ्रेमवर्क: संदिग्ध गतिविधियों पर निगरानी बनाए रखने की तैयारी

भारतीय पूंजी बाजार के निगरानीकर्ता, सेवरेज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने एक नए ट्रेडिंग अकाउंट फ्रेमवर्क की घोषणा की है, जो संदिग्ध गतिविधियों पर निगरानी बनाए रखने के लिए तैयार किया गया है। इस फ्रेमवर्क के अंतर्गत, ग्राहकों को इस तरह की ब्लॉकिंग की सुविधा मिलेगी, जो ट्रेडिंग मेंबर्स को अस्वीकृत गतिविधियों की रोकथाम में मदद करेगा।

इस फ्रेमवर्क के तहत, ग्राहकों के लिए ब्लॉकिंग की समय-सीमा, संदेश प्राप्ति का पावती जारी करने और अनुरोध प्रोसेसिंग को निर्धारित करने के तरीकों का निर्धारण किया जाएगा। साथ ही, सेबी ने बताया कि ट्रेडिंग खाते को फ्रीज या ब्लॉक करने के अनुरोध पर ट्रेडिंग मेंबर द्वारा त्वरित कार्रवाई की जाएगी और इसके बाद क्लाइंट को ट्रेडिंग को पुनः सक्षम करने के लिए प्रोसेस पूरी करना होगा।

इस नए फ्रेमवर्क के बारे में एक SEBI के प्रवक्ता ने कहा, “यह सुनिश्चित करने के लिए है कि बाजार में स्थिरता बनी रहे और ग्राहकों को सुरक्षित और विश्वसनीय तंत्र मिले।” इसका लाभ उच्च धारा की ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्मों के संदिग्ध गतिविधियों को रोकने में होगा, जो बाजार में सुरक्षा को मजबूत करेगा और निवेशकों को सुरक्षित रखेगा।

SEBI द्वारा नए ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट फ्रेमवर्क की घोषणा: संदिग्ध गतिविधियों पर निगरानी में सुधार की तैयारी

भारतीय पूंजी बाजार के निगरानीकर्ता, सेवरेज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने एक नए ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट फ्रेमवर्क की घोषणा की है जिसका उद्देश्य निवेशकों को संदिग्ध गतिविधियों से बचाना है। इस नए फ्रेमवर्क के अंतर्गत, ट्रेडिंग मेंबर्स ब्लॉक करने के लिए एक सुविधा प्रदान कर सकेंगे जो निवेशकों को सुरक्षित रखने में मदद करेगी।

SEBI new update

सेबी के एक प्रवक्ता ने कहा, “इस नए फ्रेमवर्क से हम सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ट्रेडिंग मेंबर्स ग्राहकों को संदिग्ध गतिविधियों से बचाने के लिए सक्षम हों और इससे बाजार में और भी अधिक विश्वसनीयता बढ़ेगी।” इस नए फ्रेमवर्क में ग्राहकों के लिए ब्लॉकिंग की सुविधा की समय-सीमा, अनुरोध प्रोसेसिंग, और संदिग्ध गतिविधियों पर निगरानी बनाए रखने के लिए तरीके का निर्धारण किया जाएगा। यह नया इकाईकरण सुनिश्चित करेगा कि भारतीय स्टॉक ब्रोकिंग इंडस्ट्री निवेशकों को और भी सुरक्षित और विश्वसनीय तंत्र प्रदान करती रहे।

SEBI द्वारा नए ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट फ्रेमवर्क: ट्रेडिंग मेंबर्स को ट्रेडिंग खातों को ब्लॉक करने की सुविधा

भारतीय पूंजी बाजार के निगरानीकर्ता, सेवरेज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने निवेशकों को संदिग्ध गतिविधियों से बचाने के लिए एक नए ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट फ्रेमवर्क की घोषणा की है। इस नए फ्रेमवर्क के तहत, ट्रेडिंग मेंबर्स अब ग्राहकों के ट्रेडिंग खातों को संदिग्ध गतिविधियों के मामले में ब्लॉक करने की सुविधा प्रदान कर सकेंगे।

SEBI के एक प्रवक्ता ने बताया कि निवेशकों को सुरक्षित रखने के लिए इस नए फ्रेमवर्क में ग्राहकों के ट्रेडिंग खातों को ब्लॉक करने की सुविधा शामिल की जा रही है। इसमें ट्रेडिंग मेंबर्स ग्राहकों के लॉगिन आईडी और पासवर्ड का उपयोग करके उनके ट्रेडिंग खातों को ब्लॉक करने की सुविधा प्रदान कर सकेंगे। इससे निवेशकों को आत्मसुरक्षित रखने में मदद मिलेगी और उन्हें अपने निवेशों पर नजर रखने का और भी आसान तंत्र मिलेगा। यह नया इकाईकरण सुनिश्चित करेगा कि भारतीय स्टॉक ब्रोकिंग इंडस्ट्री निवेशकों को और भी सुरक्षित और विश्वसनीय तंत्र प्रदान करती रहे।

SEBI ने तिथि तय की, 1 जुलाई 2024 से नए ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट फ्रेमवर्क लागू करने का ऐलान

ये पोस्ट आपको जरूर पढना चाहिए..

Sadhana Nitro Chem: 0.84 पैसे वाला शेयर ने बनाया करोड़पति, अभी भी है रिटर्न लेने का मौका, लगा लो दाव

Top 10 Multibagger stock: कम समय में ज्यादा रिटर्न देंगे ये 10 शेयर, एक्सपर्ट्स ने निवेश की सलाह, जाने इनके नाम

CNI Research Ltd: 3 रुपये वाला शेयर दिखा रहा कमाल, निवेशक हो रहे मालामाल 6 महीनों से लागातार बढ़ रहा भाव.

मैक्सपोज़र आईपीओ: 33 प्राइस बैंड , मौका है या धोखा जानेलें पहले पुरी कुंडली, नहीं तो हो सकता है बड़ा नुकसान

 Motisons Jewellers Ltd: मात्र 10 दिनों में ही पैसे हुए डबल से भी ज्यादा, रिकार्ड तोड़ रिटर्न सभी निवेशक हुए मालामाल 

2 साल में पैसा डबल करने वाले 10 म्युचुअल फंड, आज से ही शुरू करें निवेश…

राम मन्दिर के वजह से इन 5 शेयरों में होगी जबरदस्त ग्रोथ, निवेशकों के लिए सुनहरा अवसर, जाने शेयरों के नाम

भारतीय पूंजी बाजार के निगरानीकर्ता, सेवरेज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने स्टॉक एक्सचेंजों से नए ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट फ्रेमवर्क को लागू करने की तिथि का ऐलान किया है। इस नए फ्रेमवर्क के तहत ट्रेडिंग मेंबर्स को ग्राहकों के ट्रेडिंग खातों को संदिग्ध गतिविधियों के मामले में ब्लॉक करने की सुविधा होगी। यह फ्रेमवर्क 1 जुलाई, 2024 से लागू होगा।

SEBI new update में एक प्रवक्ता ने बताया कि इसमें ट्रेडिंग मेंबर्स को ग्राहकों के लॉगिन आईडी और पासवर्ड का उपयोग करके उनके ट्रेडिंग खातों को ब्लॉक करने की सुविधा होगी और इससे निवेशकों को और भी सुरक्षित महसूस होगा।

दोस्तों अगर आप ये चाहते हैं शेयर बाजार की सभी नये अपडेट आपके पास खुद चलकर आऐ आपको कहीं सर्च ना करने पड़े तो उसके लिए आप हमारे व्हाट्सएप और टेलीग्राम चैनल से जरूर जुड़ीये। हम आपको शेयर बाजार में चल रहे सभी तरह के नये अपडेट से रुबरु कराते हैं। 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now